Rekha Ki Paribhasha, रेखा की परिभाषा और प्रकार

आज हम जानेंगे Rekha Ki Paribhasha In Hindi | रेखा की परिभाषा | Rekha Definition In Hindi | रेखा का अर्थ | Rekha Ke Prakar | आपको बताने वाले है.

Rekha Ki Paribhasha-

आज हम जानेंगे की Rekha Kya Hai | रेखा किसे कहते है | Definition Of Rekha In Hindi | रेखा के उदाहरण | रेखा के प्रकार के बारे में बताने वाले है-

रेखा बिंदुओं के सीधे समूह को प्रदर्शित करने वाली एक आयामी रचना है जो विपरीत दिशाओं में अनन्त तक फैली होती हैं | इसका दोनों दिशाओं में कोई अंत नहीं है उसे रेखा कहते है.

रेखा की कोई मोटाई और निश्चित लम्बाई नहीं होती है | एक रेखा को खीचने के लिए न्यूनतम दो बिन्दुओं की आवश्कयता होती है|

  • गणित में, रेखा एक ज्यामितीय संरचना है जो एक सीधे पथ का प्रतिनिधित्व करती है जो दोनों दिशाओं में अनंत रूप से फैली हुई है।
  • यह ज्यामिति में प्रयुक्त निर्माणों में से एक है।
  • एक रेखा पर बिंदुओं की संख्या अनंत होती है।
  • रेखाओं का कोई निश्चित आरंभ या अंत बिंदु नहीं होता, इसलिए रेखा की कोई निश्चित लंबाई नहीं होती।

रेखा की विशेषताएँ-

  • एक रेखा का कोई अंतिम बिंदु नहीं होता.
  • रेखा किसी भी दिशा में अनंत तक विस्तारित हो सकती है।
  • रेखा में केवल लम्बाई होती है, मोटाई नहीं।
  • दो समानान्तर रेखाओं के बीच की दूरी सदैव समान होती है।
  • प्रतिच्छेदी रेखाएँ एक ही बिंदु पर प्रतिच्छेद करती हैं।
  • लम्बवत रेखाओं के बीच का कोण सदैव समकोण होता है।

रेखाओं के प्रकार :

  • सरल रेखा
  • समांतर रेखा
  • तिर्यक रेखा
  • वक्र रेखा
  • सांगामी रेखा

1. सरल रेखा-

सरल रेखा वह रेखा है जो एक बिंदु से दूसरे बिंदु तक बिना बदले जाती है सरल रेखा कहलाती है।

दूसरे शब्दों में, जब किसी समतल पृष्ठ पर दो बिंदुओं के बीच में एक ही दिशा में कोई रेखा बनती है तो वह सरल रेखा कहलाती है।

रेखा के उदाहरण
1.1. क्षैतिज रेखाएँ –

एक सीधी रेखा जो जमीन के समानांतर होती है यानि जमीन से 0 Degree का कोण बनाती हो , उसे हम  क्षैतिज  रेखा कहते हैं|  यह एक ऐसी सीधी रेखा है जो बाएँ से दाएँ या दाएँ से बाएँ खींची जाती है .

यह निर्देशांक तल  x-अक्ष के समानांतर होती है|

1.2. ऊर्ध्वाधर रेखाएं –

ऊर्ध्वाधर रेखा वह है जो किसी सतह या किसी अन्य रेखा  से 90 Degree का कोण बनती हो |

ऊर्ध्वाधर रेखा हमेशा एक सीधी रेखा होती है जो ऊपर से नीचे या नीचे से ऊपर तक जाती है। यह निर्देशांक तल में y-अक्ष के समानांतर होती है|

1.3. लम्बवत रेखाएं-

जब एक रेखा दूसरी रेखा  को Degree के कोण पर या समकोण पर मिलती या प्रतिच्छेद करती हैं, तो वे  रेखाएं एक दूसरे पर लंबवत होती हैं।

2.सांगामी रेखाएं –

जब दो या दो से अधिक रेखाएँ एक समतल में एक दूसरे को काटती हैं तो उन्हें प्रतिच्छेदी रेखाएँ कहते हैं। प्रतिच्छेदी रेखाएँ एक  दूसरे को जिस बिंदु पर काटती है ,उस बिंदु को उन रेखाओं का प्रतिच्छेदी बिंदु कहते हैं, जो सभी प्रतिच्छेदी रेखाओं पर मौजूद होता है |

प्रतिच्छेदी रेखाएँ एक और केवल एक ही बिंदु पर मिलती हैं| 

Rekha Ki Paribhasha

चित्र में m और n प्रतिच्छेदी रेखाएं हैं और O उनका प्रतिच्छेदन बिंदु है|

3. समान्तर रेखाएं –

जब दो रेखाएं एक दूसरे से सामान दूरी पर होती हैं और कभी नहीं मिलती हैं, ऐसी रेखाओं को समान्तर रेखाएं कहते हैं |

दो समान्तर रेखाओं कि लम्बवत दूरी हमेशा समान होती है|

जैसे- ज़ेबरा क्रॉसिंग, नोटबुक की लाइनें , रेलवे  की पटरियां आदि  समानांतर रेखाओं के उदाहरण  हैं। 

रेखा की परिभाषा

4.-तिर्यक रेखा

तिर्यक रेखा वह है जो एक रेखा दो या दो से अधिक रेखाओं को भिन्न बिंदुओं पर काटती हो तो उस रेखा को तिर्यक रेखा कहते हैं।

रेखा की परिभाषा

दिए गए चित्र में m और n  तिर्यक  रेखाएं हैं|

5.वक्र रेखा-

वक्र रेखा एक ज्यामितिकीय शब्द है जिसे हिंदी में “वक्रीय रेखा” कहा जाता है।

  • यह एक ऐसी रेखा होती है जिसका प्रत्येक बिंदु कुछ विशिष्ट ढंग से मुड़ा होता है और सीधी रेखा के खिलाफ होती है।
  • वक्र रेखा उभरती, घटती या घुमावदार हो सकती है।
रेखाओं के प्रकार

रेखा की परिभाषा- रेखा के उदाहरण-

  • हम अपने पृष्ठ पर या किसी समतल भूमि पर कोई रेखा खींचते हैं तो वह एक रेखा होती है।
  • सूर्य की किरणें रेखा का एक उदाहरण है।
  • साथ ही रोड पर हम अपने घर से अपनी मंजिल तक जाते है, जो दो बिंदुओं की तरह है, जिसे रोड पूरा करता है तो यह भी एक रेखा का उदाहरण है।
  • इसके अलावा ट्रेन की पटरी, ब्रिज एक रेखा के परिभाषा को बखूबी निभाते हैं।

यह भी पढ़े –

Shanku Ki Paribhasha, शंकु की परिभाषा हिंदी में उदाहरण सहित

Purnank Ki Paribhasha, पूर्णांक संख्या की परिभाषा

Sambahu Tribhuj Ki Paribhasha, समबाहु त्रिभुज की परिभाषा हिंदी में.

Belan Ki Paribhasha, बेलन की परिभाषा

Bahulak Ki Paribhasha, बहुलक की परिभाषा

निकर्ष-

  • जैसा की आज हमने आपको Rekha Ki Paribhasha, रेखा की परिभाषा, रेखा के उदाहरण के बारे में आपको बताया है.
  • इसकी सारी प्रोसेस स्टेप बाई स्टेप बताई है उसे आप फोलो करते जाओ निश्चित ही आपकी समस्या का समाधान होगा.
  • यदि फिर भी कोई संदेह रह जाता है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट कर सकते और पूछ सकते की केसे क्या करना है.
  • में निश्चित ही आपकी पूरी समस्या का समाधान निकालूँगा और आपको हमारा द्वारा प्रदान की गयी जानकरी आपको अच्छी लगी होतो फिर आपको इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है.
  • यदि हमारे द्वारा प्रदान की सुचना और प्रक्रिया से लाभ हुआ होतो हमारे BLOG पर फिर से VISIT क

Leave a Comment