Sarvanamik Visheshan Ki Paribhasha Or Udaharan

आज हम जानेगे की Sarvanamik Visheshan Ki Paribhasha In Hindi | सार्वनामिक विशेषण की परिभाषा उदाहरण सहित | Sarvanamik Visheshan Ke Prakar | सार्वनामिक विशेषण का अर्थ के बारे में आपको बताने वाले है.

Sarvanamik Visheshan Ki paribhasha-

आज हम Sarvanamik Visheshan Definition In Hindi | सार्वनामिक विशेषण क्या है | सार्वनामिक विशेषण किसे कहते है | Sarvanamik Visheshan Ke Udaharan के बारे में आपको बताने वाले है.

ऐसे सर्वनाम शब्द जो संज्ञा से पहले लगकर उस संज्ञा शब्द की विशेषण की तरह विशेषता बताते हैं ऐसे शब्दों को सार्वनामिक विशेषण कहते हैं।
अर्ताथ जो विशेषण के रूप में किसी संज्ञा व सर्वनाम शब्द की विशेषता बताते है, उन्हें ‘सार्वनामिक विशेषण’ कहते है।

Sarvanamik Visheshan ke Udaharan
Sarvanamik Visheshan ke Udaharan
Sarvanamik Visheshan ke Udaharan

Sarvanamik Visheshan ke Udaharan-

अब तक हमने आपको सार्वनामिक विशेषण की परिभाषा को बताया है और अब हम Sarvanamik Visheshan ke Udaharan आपको के बारे में बताने वाले है-

उदाहरण-

वह लड़का सबसे तेज़ दौड़ता है।

ऊपर दिए गए उदाहरण में जैसा की आप देख सकते हैं यहां वह शब्द प्रयोग किसी निश्चित लड़के की तरफ संकेत करने के लिए किया गया है।
अतः यह उदाहरण संकेतवाचक या निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण के अंतर्गत आएगा।

इस मेज पर चीज़ें रखना मना है।

दिए गए उदाहरण में इस शब्द का प्रयोग किया गया है। इस शब्द का प्रयोग मेज की तरफ संकेत करने के लिए किया गया है।
अतः ये उदाहरण संकेतवाचक या निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण के अंतर्गत आएगा।

अन्य उदाहरण-

  • इस पलंग पर सामान ना रखें।
  • वह छात्रा रोती है।
  • इस कुर्सी पर मत बैठना।
  • इस गाङी को टच मत करना।
  • यह घर रमेश का है।
  • वह अब्दुल के अब्बा है।
  • इतना सारा खिलौना कहां से लेकर आए?
  • यह लङकी वही है जो मर गयी थी।
  • यह पुष्प कितना सुन्दर है।
  • उस पुस्तक को पढ़ो।
  • मुझे कुछ कपड़े खरीदने हैं।
  • यह मेरी किताब है।
  • कौन सा कपड़ा तुम्हें पसंद आया?
  • वह रोज मजदूरी करता है।
  • वे कुत्ते जा रहे हैं।
  • जितना मेहनत वह करती है उतना मेहनत मैं नहीं कर सकता।
  • उस गरीब को खाना दो।
  • उसका घर मुझे बहुत लुभाता है।
  • वह आदमी अच्छे से काम कर
Sarvanamik Visheshan Ki paribhasha

सार्वनामिक विशेषण के प्रकार-

अब हम आपको सार्वनामिक विशेषण के प्रकार के बारे में बताने वाले है जो की सार्वनामिक विशेषण के 6 प्रकार के होते हैं –

  • संकेतवाचक सार्वनामिक विशेषण
  • अनिश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण
  • प्रश्नवाचक सार्वनामिक विशेषण
  • सम्बन्धवाचक सार्वनामिक विशेषण
  • मौलिक सार्वनामिक विशेषण
  • यौगिक सार्वनामिक विशेषण

(1) निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण-

निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण वह है जिस विशेषण संज्ञा या सर्वनाम की ओर निश्चयात्मक रूप से संकेत करते हैं, निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण कहलाते हैं।

जैसे – वह मूर्ति, वे मूर्तियों, यह मूर्ति, ये मूर्तियां।

उदाहरण –

वह खंभा गिर जाएगा।

यहां ’वह’ सर्वनाम ’खंभा’ की विशेषता प्रकट कर रहा है अतः यह सार्वनामिक विशेषण है।

  • ’वह आपको जानता है।’
  • ’यह कलम राम की है।’

इन दोनों वाक्यों में ’यह’ तथा ’वह’ निश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण है।

(2) अनिश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण-

अनिश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण वह है विशेषण संज्ञा या सर्वनाम की ओर अनिश्चित रूप से संकेत करते हैं, अनिश्चयवाचक सार्वनामिक विशेषण कहलाते हैं।

जैसे – कुछ लाभ, कोई लङका, कोई व्यक्ति।

उदाहरण –

’कोई आया है।’

इस वाक्य में ’कोई’ शब्द अनिश्चय की स्थिति पैदा कर रहा है। अतः यहां अनिश्चयात्मक सार्वनामिक विशेषण है।

अन्य उदाहरण-

  • आज कुछ सामान मार्केट से लाना है।
  • कोई आदमी मुझे मार रहा था।
  • मेरी कार से कुछ सामान गायब है।
  • कोई आदमी मिलने आया है।
  • वहां देखो कोई आ रहा है।

(3) प्रश्नवाचक सार्वनामिक विशेषण-

प्रश्नवाचक सार्वनामिक विशेषण वह है विशेषण संज्ञा या सर्वनाम से संबंधित प्रश्नों का बोध कराते हैं, प्रश्नवाचक सार्वनामिक विशेषण कहलाते हैं।

जैसे – कौन लोग?

  • क्या सहायता?
  • कौन आदमी?
  • क्या काम?

उदाहरण

  • ’कौन आया है?’
  • ’किस टोकरी को उठाना है?’

इन वाक्यों में ’कौन’ व ’किस’ शब्द से प्रश्न होना पाया जा रहा है। अतः यहां प्रश्नवाचक सार्वनामिक विशेषण कहलाते है।

अन्य उदाहरण-

  • किस किस पुस्तक को पढ़ू?
  • क्या मैं आपके पास आ सकता हूँ।
  • क्या मैं इसके बारे में जान सकता हूँ।
  • कौन है जो सुबह से फोन करके परेशान कर रहा है।
  • क्या मुझे यह करना चाहिए।

(4) संबंधवाचक सार्वनामिक विशेषण-


संबंधवाचक सार्वनामिक विशेषण वह है विशेषण शब्द संज्ञा या सर्वनाम शब्दों का संबंध वाक्य में प्रयुक्त अन्य संज्ञा या सर्वनाम के साथ जोङते हैं, संबंधवाचक सार्वनामिक विशेषण कहलाते हैं।

जैसे – जो वस्तु, जो लङका, जो पुस्तक।

उदाहरण –

  • जो व्यक्ति आपके साथ कार्य करेगा,
  • उससे अभी मिल लो।’

इस वाक्य में ’जो’ व ’उससे’ आदि शब्द संज्ञा व सर्वनाम में संबंध स्थापित कर रहे हैं। अतः यहां संबंधवाचक सार्वनामिक विशेषण है।

अन्य उदाहरण-

  • जिस काम को करना ना हो, उस पर विचार करना मूर्खता है।
  • तुम्हारे दोनों दोस्त कल जयपुर में मिले थे।
  • मेरा भाई अभी तक नहीं आया है।
  • तुम्हारा भाई मेरे पास आया था।
  • तुम्हारी कार मेरे पास है।

(5) मौलिक सार्वनामिक विशेषण-

मौलिक सार्वनामिक विशेषण वह है जो मूल रूप से संज्ञा के आगे प्रयुक्त होकर संज्ञा की विशेषता का बोध करवाते हैं, उन्हें मौलिक सार्वनामिक विशेषण कहा जाता है।

उदाहरण: यह लड़का, वह आदमी, कोई व्यक्ति, वह स्कूल इत्यादि।

अन्य उदाहरण-

  • वह लड़का काफी ताकतवर है।
  • वह लड़की देखने में बहुत खूबसूरत है।
  • यह बंगला काफी पुराना हो गया है।
  • मुझे यह लड़की परेशान करती है।
  • मुझे तुम बहुत पसंद हो।

ऊपर प्रयुक्त वाक्यों में यह, वह आदि शब्द संज्ञा के आगे जुड़कर संज्ञा शब्दों की विशेषता बता रहे हैं, इसलिए यह मौलिक सार्वनामिक विशेषण के उदाहरण है।

(6) यौगिक सार्वनामिक विशेषण-

यौगिक सार्वनामिक विशेषण जो मूल शब्द ऐसा, कैसा, जैसा, उतना इत्यादि जो सर्वनाम में प्रत्यय लगाने से बनते हैं और उन शब्दों के जरिए संज्ञा की विशेषता को बताया जाता है, उनको योगिक सार्वनामिक विशेषण कहते हैं।

उदाहरण:

  • जितना पैसा उतना कार्य।
  • ऐसा कैसा बंगला है जिसके ऊपर छत भी नहीं है।
  • अगर आपको ऐसा आदमी दिखाई दे तो मुझे फोन करना।
  • ऐसा आदमी कौन है जो कोई बात नहीं मानता।
  • जैसा देश वैसी जनता

यह भी पढ़े –

Sangya Ki Paribhasha, संज्ञा की परिभाषा उदाहरण सहित

Visheshan Ki Paribhasha, विशेषण की परिभाषा उदाहरण सहित

Sarvanam Ki Paribhasha, सर्वनाम की परिभाषा उदाहरण सहित

Karak Ki Paribhasha, कारक की परिभाषा उदाहरण सहित

निकर्ष-

  • जैसा की आज हमने आपको Sarvanamik Visheshan Ki paribhasha, सार्वनामिक विशेषण के प्रकार, Sarvanamik Visheshan ke Udaharan जानकारी के बारे में आपको बताया है.
  • इसकी सारी प्रोसेस स्टेप बाई स्टेप बताई है उसे आप फोलो करते जाओ निश्चित ही आपकी समस्या का समाधान होगा.
  • यदि फिर भी कोई संदेह रह जाता है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट कर सकते और पूछ सकते की केसे क्या करना है.
  • में निश्चित ही आपकी पूरी समस्या का समाधान निकालूँगा और आपको हमारा द्वारा प्रदान की गयी जानकरी आपको अच्छी लगी होतो फिर आपको इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है.
  • यदि हमारे द्वारा प्रदान की सुचना और प्रक्रिया से लाभ हुआ होतो हमारे BLOG पर फिर से VISIT करे

Leave a Comment